Tuesday, 1 August 2006

अश्लील एमएमएस क्या करें लड़कियां

अभी गुजरात के शहर सूरत से एक खबर आई। एक लड़के ने अपनी महिला मित्र के अंतरंग क्षणों को मोबाइल फोन से रिकार्ड कर लिया। इस रिकार्डिंग को उसने बाद में अपने दोस्तों में बांट दिया। बाद में इस एमएमएस के आम हो जाने के बाद लड़की परिवार वालों शहर छोड़कर भागना पड़ा। वहीं पुलिस ने इस मामले में कारवाई करते हुए उस लड़के को गिरफ्तार कर लिया। इससे पहले भी देश के कई कोने में इस तरह के एमएमएस कांड हो चुके हैं। कई बार लड़कियां विश्वास में आकर अपने पुरुष मित्र को अपना सब कुछ सौंप देती हैं। पर पुरुष मित्र हमेशा इमानदार नहीं होता है। वह चुपके से ऐसे क्षणों की फिल्म बना लेता है तो ऐसे में लड़कियों को क्या करना चाहिए। जाहिर है सावधान रहना चाहिए।
दोस्ती की सीमा समझें-
किसी पर ही सीमा से आगे जाकर भरोसा न करें। हर दोस्ती में एक सीमा यानी लक्ष्मण रेखा तय करें और उसका पालन करें। ऐसा नहीं करने पर कई बार आपके साथ शहर छोड़कर भागने या आत्महत्या करने जैसी स्थिति आ सकती है। अगर आपका कोई दोस्त बार-बार सीमा से आगे बढ़ने की बात करता हो तो उसे अच्छी तरह समझाएं। अगर वह न माने तो ऐसे दोस्त से अलग हो जाना ही बेहतर होगा। किसी शायर ने भी कहा है कि - ताल्लुक अगर बोझ बन जाए तो उसका तोड़ना बेहतर।
अपनी प्रतिष्ठा का ख्याल रखें
याद रखें आपकी और आपके घर वालों की हमेशा समाज में एक प्रतिष्ठा होती है। आप इसका ख्याल रखें और इसके अनुरूप ही व्यवहार करें। कोई भी कदम उठाने से पहले उसके हानि-लाभ के बारे में सोच लें। इससे आपकी बहुत सी गलतियों पर रोक खुद लग जाएगी। किसी शायर ने कहा है कि -बस एक गलत कदम उठा था राहे शौक में तमाम उम्र मंजिल मेरा रास्ता ढूंढती रही।
अति महत्वाकांक्षा बुरी
कई गलत कदम के पीछे अति महत्वाकांक्षा बहुत बड़ा कारण होती है। अगर आप अपनी इच्छाओं को सीमित रखें तो आपसे बहुत सी गलतियां नहीं होगीं। साथ ही कम इच्छाएं रखने वाला आदमी सुखी भी रहता है। वैसे अति हर चीज की बुरी होती है। कई बार किसी बड़ी इच्छा के लिए आदमी कोई गलत कदम उठाने की गलती कर बैठता है।
किसी पर भी पूरा भरोसा न रखें
प्रोफेशनलिज्म का तकाजा है कि किसी भी व्यक्ति पर पूरा भरोसा न करें। किसी के सामने अपने दिल की बात करने से पहले अच्छी तरह परख लें। जीवन में बहुत सारे निर्णय चतुराई से लिए जाते हैं। इसलिए आप कभी इमोशनल फूल न बनें। बल्कि समझदारी से काम लें। यह आपके आगे बढ़ने में सहायक होगा। हो सकता है आपके दोस्त आपके चतुर होने के कारण आपके ऊपर कुछ तोहमत लगाएं पर आप उनकी ऐसी बातों पर बिल्कुल ही ध्यान न दें। कुछ ऐसे उपाय कर आप कहीं भी अपने व्यक्तित्व को विघटित होने से बचा कर रख सकते हैं।

No comments: