Saturday, 1 November 2008

एक कहानी - राजा और रानी

मैं रात को सोते समय रोज अपने तीन साल के बेटे को एक कहानी सुनाता हूं....कल रात मेरे बेटे ने कहा कि पापा कहानी सुनाओ..मैंने कहा- बेटे आज मूड नहीं है सोने दो..बेटा बोला ठीक है पापा आज मैं आपको कहानी सुनाता हूं.... अब मेरे तीन साल के बेटे ने जो कहानी सुनाई वो आप भी सुनें...

एक राजा था...उसके घर में अचानक बिजली चली गई...राजा को डर लगने लगा....तभी बिजली आ गई....तो राजा ने देखा उसके सामने रानी थी...

अच्छी कहानी थी न पापा...................

3 comments:

समयचक्र - महेद्र मिश्रा said...

बच्चे ने कहानी सुनाई तो अच्छी तो होगी ही. बहुत बढ़िया.

संगीता पुरी said...

मात्र तीन साल के बेटे द्वारा की गई कल्‍पना कम नहीं है।

Anonymous said...

संगीता पुरी जी और महेंद्र मिश्रा जा कमेंट के लिए शुक्रगुजार हूं...आप उत्साह बढ़ाते रहें...विद्युत