Saturday, 1 March 2014

को ब्रांडेड कार्ड का दौर

अगर आप किसी बैंक का क्रेडिट कार्ड लेना चाहते हैं तो को ब्रांडेड कार्ड के बारे में एक बार जांच पड़ताल कर लें। आजकल हर लोकप्रिय क्रेडिट कार्ड बेचने वाली कंपनी किसी न किसी पापुलर कंपनी के साथ को ब्रांडेड कार्ड पेश कर रही है। को ब्रांडेड कार्ड लेने का सबसे बड़ा फायदा है कि इसमें आपको ज्वाएनिंग फीस और सालाना शुल्क में रियायत मिलती है। इसके साथ ही कई और तरह के सुविधाएं भी प्राप्त होती हैं तो को ब्रांडेड कार्ड में मौजूद होती हैं। ये सुविधाएं साधारण कार्ड के ग्राहकों को नहीं मिल पाती हैं।

क्या है को ब्रांडेड कार्ड - ये कार्ड किसी क्रेडिट कार्ड जारी करने वाले बैंक और किसी अन्य उपभोक्ता कंपनी के साथ मिल कर जारी किए जाते हैं। ये खास तौर पर उन्ही उपभोक्ताओं के लिए होते हैं जो उनकी सुविधाओं का लगातार इस्तेमाल करते हैं। जैसे मान लिजिए आपके पास मारूति कार है तो मारुति का स्टेट बैंक के साथ को ब्रांडेड कार्ड हो सकता है। देश के जाने माने सुपर मार्केट की श्रंखला बिग बाजार ने आईसीआईसीआई बैंक के साथ मिलकर को ब्रांडेड कार्ड लांच किया है तो विशाल मेगा मार्ट ने स्टेट बैंक आफ इंडिया के साथ मिलकर को ब्रांडेड क्रेडिट कार्ड जारी किया है। इनमें कार्ड खरीददारी करने वाले ग्राहकों को कुछ खास सुविधाएं दी जाती हैं।


जैसे कुछ लोग किसी खास एयरलाइन से लगातार सफर करते हैं उनके लिए को ब्रांडेड कार्ड में टिकट खरीद पर पांच से 10 फीसदी डिस्काउंट देने का प्रावधान होता है। ठीक इसी तरह किसी खास कार कंपनी के साथ मिलकर दिया जाने वाले कार्ड उसके उपभोक्ताओं को सर्विसिंग और स्पेयर पार्टस खरीदने के समय कुछ छूट प्रदान करता है। स्टेट बैंक आफ इंडिया ने हीरो होंडा मोटर साइकिल रखने वालों के लिए सालों से क्रेडिट कार्ड पेश किया हुआ है। भारत में क्रेडिट कार्ड बेचने वाली प्रमुख बैंको में एबीएन एम्रो, स्टेट बैंक आईसीआईसीआई, एचडीएफसी, स्टैंडर्ड चार्टड बैंक किसी न किसी के साथ ही को ब्रांडेड कार्ड जरूर पेश कर रहे हैं।
अगर आप किसी बैंक में को ब्रांडेड कार्ड के लिए आवेदन करते हैं तो आपको अपेक्षाकृत कम औपचारिकताएं पूरी करनी पड़ती है। यहां पर आपको कोई गारंटी भी नहीं देनी पड़ती है। आमतौर पर जिस उत्पाद के आप उपयोक्ता हैं उसको ही गारंटी मान लिया जाता है। खासकर वे लोग जो खास तरह की सेवाओं का उपयोग करते हैं उनके लिए को ब्रांडेड कार्ड अच्छे हो सकते हैं। पेट्रोल पंप कंपनियों के और मोबाइल फोन कंपनियों के भी को ब्रांडेड कार्ड उपलब्ध हैं। टाटा इंडीकाम ने भी को ब्रांडेड कार्ड आरंभ किया है। आप जब किसी बैंक से कार्ड बनवाएं तो यह देख लें कि उसमें कौन से पावर हैं और वह कहां कहां स्वीकार्य है। जैसे वीजा और मास्टर कार्ड आमतौर पर सभी आउटलेट में स्वीकार किए जाते हैं वहीं अमेरिकन एक्सप्रेस की स्वीकार्यता थोड़ी कम है।

क्रेडिट कार्ड को अच्छी आदत बनाएं- आप भले ही किसी भी कंपनी के साथ क्रेडिट कार्ड बनवाएं, पर इसे हमेशा उधार लेने की आदत के रुप में नहीं इस्तेमाल करें। अगर आपके उपर ज्यादा उधार हो गया तो आपको ब्याज में ज्यादा राशि चुकानी पड़ सकती है। इसलिए उतनी ही उधार खरीददारी करें जितना आप अगले महीने में आसानी से चुका सकें।

-विद्युत प्रकाश vidyutp@gmail.com




No comments: