Friday, 14 February 2014

बूंद बूंद से होती है बचत...

रूपये बचाने के कई तरीके से होती है। पर अच्छे दिनों में थोड़ी थोड़ी की गई बचत बूरे दिनों में काफी काम आ जाती है। आम तौर पर लोग बचत के लिए बैंक में रेकरिंग खाता या पीपीएफ खाता खोलते हैं। पर बचत के लिए इससे भी कई अच्छे उपाय हो सकते हैं। जैसे आप थोड़े से पैसे ही सीधे शेयर बाजार में प्रवेश कर सके हैं। शेयर बाजार में प्रवेश करने का आसान तरीका म्यूचुअल फंड हो सकता है। आम तौर पर किसी भी म्यूचुअल फंड में पहली बार निवेश के लिए न्यूनतम राशि पांच हजार रुपये होती है। पर आप इससे भी कम राशि के साथ म्युचुअल फंड में बचत की शुरूआत कर सकते हैं।

सिप से करें बचत- आम तौर पर किसी भी म्यूचुअल फंड में सिप के द्वारा बचत के लिए पांच सौ रूपए मासिक और एक हजार रुपए मासिक का विकल्प मौजूद है। अगर आप एक हजार रुपए मासिक से बचत की शुरूआत करते हैं तो आपको छह चेक देने होंगे और एक नियत तारीख को आपके खाते से पैसा निकल कर आपके नाम म्यूचुअल फंड की यूनिटें उस दिन के बाजार भाव ( एनएवी) पर एलाट होती रहेंगी। पर अगर आप 500 रुपए मासिक बचत करना चाहते हैं तो आपको 12 महीने तक लगातार बचत करनी होगी। सिप किसी भी म्युचुअल फंड में प्रोटफोलियो बनाने का आसान तरीका हो सकता है। इसमें कम आय वर्ग का दामी भी प्रवेश कर सकता है। अगर आपने सिप के द्वारा एक प्रोटफोलियो बना लिया तो उसके बाद आप उसमें पांच सौ या एक हजार जैसी राशि का निवेश बड़े आराम से कभी भी कर सकते हैं।
सौ रूपए का भी सिप- अब निवेशक चाहें तो सौ रूपये मासिक का निवेश भी सिप के माध्यम से कर सकते हैं। रिलायंस म्युचुअल फंड ने अब सौ रूपये मासिक का भी सिप पेश कर दिया है। इसके बारे में किसी निकटतम म्यूचुअल फंड निवेश एजेंसी या रिलायंस म्युचुअल फंड के दफ्तर में जाकर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। आमतौर पर सौ रूपये निवेश की सुविधा रिलांयस ईसीएस के माध्यम से पैसा निकलवाने वाले खातों में प्रदान कर रही है। रिलायंस की यह कोशिश निम्न मध्यम वर्ग के लोगों को म्युचुअल फंड के प्रति आकर्षित करने के लिए है। जैसे कोई आदमी अगर सिर्फ चार-पांच हजार रूपए मासिक की कमाता है वही भी इस तरह के फंड में निवेश कर सकता है।
रेगुलर सेविंग का विकल्प - रिलायंस ने एक रेगुलर सेविंग फंड भी आरंभ किया है। इस फंड में आप केवल पांच सौ रूपए पहली बार निवेश करके भी प्रोटफोलियो बना सकते हैं। उसके बाद जिस महीने में जितनी राशि चाहें निवेश कर सकते हैं। इसमें हर महीने एक निश्चित राशि जमा करने की बंदिश भी नहीं है। आम तौर पर बाकी फंड में पहली बार निवेश के लिए कम से कम पांच हजार रूपए जमा करने की बंदिश है। पर रेगुलर सेविंग फंड में ऐसा नहीं है। तो आप इस फंड को भी ट्राई कर सकते हैं। अगर आप कई अच्छे म्युचुअल फंड का पिछले 15 से 20 सालों का इतिहास देखें तो उन्होंने प्रति वर्ष 20 से 40 फीसदी का ग्रोथ का रिटर्न दिया है। यह बैंक में रेकरिंग जमा की तुलना में बहुत ज्यादा है जहां सिर्फ आठ फीसदी तक ही रिटर्न मिल पाता है। हां अब नए नियम के मुताबिक म्युचुअल फंड में निवेश के लिए आपके पास पैन कार्ड होना जरूरी हो गया है और अगर आपने एक बार पैन कार्ड बनवा लिया तो आपको हर साल अपनी आय का रिटर्न भी भरना चाहिए।


विद्युत प्रकाश मौर्य vidyutp@gmail.com

No comments: